दिनांक 20.11.2021 को थाना गोटेगांव में प्रार्थी योगेश उर्फ योगी कहार के माध्यम से सूचना प्राप्त हुयी कि गुरूनानक वार्ड, गोटेगांव अंतर्गत अपने मकान में अकेले रहने वाली हीरा बाई कहार उम्र 79 वर्ष की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या का लाश एक प्लास्टिक की बोरी में बांधकर कमरे में रख दी है।

         प्रार्थी की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना गोटेगांव में अपराध क्रमांक 725/2021 धारा 302, 201 भादवि पंजीवद्ध कर विवेचना में लिया गया।

                      सूचना प्राप्त होते ही प्रकरण की गंभीरता को दखते हुए पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार शिवहरे द्वारा द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर प्रकरण में अज्ञात आरोपी की पतसाजी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए एवं अज्ञात आरोपी की पतसाजी कर तत्काल गिरफतार करने हेतु निर्देशित किया गया। निर्देशानुसार थाना गोटेगांव की पुलिस टीम द्वारा स्थानीय मुखबिरों को सक्रीय कर एवं तकनीकी माध्यमों से भी पतासाजी की गयी साथ ही आस-पास के लोगों से भी पूछताछ की गयी। अज्ञात आरोपी की पतासाजी के दौरान जानकारी प्राप्त हुयी कि मृतिका को अंतिम बार उनके यहां काम करने वाले उसकी लडकी राधा बाई के नाती आकाश, संदीप चढार एवं पुष्पा बाई को देखा गया था तथा सोनू अहिरबार जो कि मृतिका का पडोसी है वह अपने घर की छत इन लोगों को दिखा था।

                        प्रकरण में पतासाजी के दौरान मृतिका के पडोस में रहने वाले संदेही सोनू अहिरबार से बारीकी से पूछताछ की गयी जिसके परिणाम स्वरूप उसके द्वारा अलग-अलग जानकारी देने पर एवं उसके द्वारा हत्या किए जाने की आशंका होने पर उससे गहनता से पूछताछ की गयी जिस पर उसके द्वारा यह स्वीकार किया गया कि उसे पैसों की तंगी के कारण वह परेशान था जिस उसने लालच में आकर मृतिका हीरा बाई की गला दबाकर हत्या कर दी एवं उसके द्वारा पहने गए सोने, चांदी के जेवर लेकर उसका शव बोरी में बंद कर छिपा दिया गया।

                       प्रकरण के आरोपी को गिरफ्त में लेकर उससे मृतिका द्वारा हत्या के दौरान कान में पहने गये सोने के फूल की जोडी, नाक में पहनने वाली सोनू की लौंग एवं चांदी की चूडिया भी वरामद की गयी है।

*अंधी हत्या के आरोपी की पतसाजी एवं गिरफ्तारी हेतु घोषित किया गया था नगद पुरूस्कार:-*

                       थाना गोटेगांव अंतर्गत 79 वर्षीय महिला की हत्या कर उसका शव बोरी में छिपा कर उसके द्वारा पहने गए सोने एवं चांदी के जेवर ले जाने वाले अंधी हत्या के आरोपी की पतसाजी एवं गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव द्वारा 10 हजार के नगद पुरूस्कार की घोषणा की गयी थी।

*अज्ञात आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी में मुख्य भूमिका:-*

                        प्रकरण में हत्या के अज्ञात आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तार करने में अति. पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार शिवहरे, एसडीओपी गोटेगांव श्री पुरूषोत्तम मरावी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी गोटेगांव श्री कमलेश चोरिया, थाना प्रभारी निरीक्षक ठेमी गौरव चाटे, उनि अंजली अग्निहोत्री, उनि दिलीप सिंह, उनि विजय द्विवेदी, प्र.आरक्षक महेन्द्र शुक्ला, आरक्षक चंद्रप्रताप पटले, आरक्षक विनय कोरी की मुख्य भूमिका रही है।